State

बिहार सरकार राज्य से बाहर फंसे लोगों के खाते में डालेगी 1 हजार रुपए

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने शुक्रवार को कहा कि लॉकडाउन के दौरान जो भी बिहार के लोग राज्य के बाहर फंसे हैं उनके खाते में सरकार एक हजार रूपये डालेगी। सुशील मोदी ने अपने अपने ट्वीट में जानकारी दी कि बिहार से मुख्यमंत्री विशेष सहायता अन्तर्गत राज्य के बाहर फंसे लोगों को रु. 1000 की कोरोना तत्काल सहायता राशि दी जाएगी।

इससे पहले उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने गुरुवार को कहा था कि लॉकडाउन के दौरान हजारों की संख्या में प्रवासी श्रमिकों एवं अन्य लोगों के अचानक आने से प्रबंधन संबंधी गंभीर समस्या खड़ी हो गयी थी। लेकिन, पंचायत स्तर तक जागरूकता, अलग रखने की सुविधा सहित अन्य प्रभावी कदमों से इससे निपटा गया। सुशील मोदी ने बताया कि राज्य सरकार ने इस समस्या से निपटने के लिये विकेंद्रीत प्रयास किये जिसमें प्रत्येक पंचायत में एक स्कूल को अलग से तैयार रखने जैसे प्रबंध शामिल है। इसमें ग्रामीणों का भी काफी सहयोग मिला जो कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिये तत्पर थे और वे इस अभियान को सफल बनाना चाहते थे.

कोरोना वायरस से निपटने के प्रयासों को लेकर एक वर्ग नीतीश कुमार सरकार की आलोचना कर रहा है जिसे बिहार के उपमुख्यमंत्री ने खारिज कर दिया। सुशील मोदी ने जोर दिया कि प्रत्येक पंचायत में एक स्कूल को अलग थलग केंद्र के रूप में परिवर्तित करने के साथ राज्य सरकार ने यह भी फैसला किया कि जो भी व्यक्ति राज्य में 18 मार्च के बाद आया है, उसकी जांच की जायेगी और ऐसा किसी राज्य ने नहीं किया।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *