Lifestyle

कोरोना वायरस से अपने बच्चों को बचने के लिए उन्हें दें खुद को प्रोटेक्ट करने की दे ट्रेनिंग

पूरी दुनिया इन दिनों कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण की चपेट में है. भारत में भी इस वायरस से प्रभावित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. यह वायरस बुजुर्गों और बच्चों को अपना शिकार तेजी से बना रहा है. ऐसे में पेरेंट्स का बच्चों के परेशान होना लाजिमी है. कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रभाव से पेरेंट्स जितना ज्यादा हो सके उन्हें प्रोटेक्ट कर रहे हैं. लेकिन ये वक्त बच्चों को इस वायरस के बारे में जानकारी देने और खुद को कैसे प्रोटेक्ट किया जाए इसके बारे में बताने का है.

इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि बच्चों को कोरोना वायरस संक्रमण के बारे में कैसे बताएं और उन्हें खुद को प्रोटेक्ट करने के लिए कैसे ट्रेनिंग दें.

बच्चों को ऐसे दें वायरस के फैलने की जानकारी

दिल्ली, यूपी समेत देश के कई हिस्सों में बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए गए हैं. स्कूल बंद होने के बावजूद बच्चों को कोरोना के बारे में जानकारी देना जरूरी हैं. बच्चों को बताएं कि यह वायरस जानवरों और इंसानों को ही होती है. यह वायरस इंसानी कोशिकाओं में घुसकर उसे तोड़ता है और फिर पूरे शरीर में फैल जाता है.

बच्चों को इस बात की जानकारी भी दें कि यह वायरस खांसते और छींकने से जल्द फैलता है. इसलिए कोई भी शख्स खांसता या छींकता है तो उससे दूरी बनाकर रखें. अगर, आपके घर में किसी को खांसी या सर्दी है तो बच्चे को उससे भी दूर रहने के लिए कहें.

सिखाएं छोटी-छोटी बातें

– बच्चों को बताएं कि वह खाना खाने से पहले और खाना खाने के बाद हाथों को साबुन और पानी से अच्छे से धोएं.

– बच्चों की पॉकेट में हैंड सैनिटाइजर रख दें और उन्हें बताएं कि हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल हर आधे घंटे के बाद करना है.

– बच्चों को घर से बाहर कम जाने के लिए कहें. बच्चों को बताएं कि वह ज्यादा समय घर के बाहर न बिताएं.

– खांसते, छींकते वक्त मुंह पर रूमाल रखना, नाक को पोंछते वक्त टिश्यू का इस्तेमाल करना भी बच्चों को सिखाएं.

– बच्चा अगर ज्यादा समय स्मार्टफोन के साथ खेलता है तो उससे मोबाइल को क्लीन करने के लिए कहें.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *