Politics

कमलनाथ और सिंधिया की लड़ाई के बीच बोले शिवराज, कहा- ये सरकार नहीं…..

 मध्य प्रदेश में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा अतिथि शिक्षकों का समर्थन किए जाने और उनके साथ सड़क पर उतरकर प्रदर्शन करने वाले बयान देने के बाद से सियासत गर्म हो गई है. अब इस बयान पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि यह सरकार नहीं सर्कस है, तमाशा कर रखा है. पूरे राज्य में तमाशा हो रहा है. इन लोगों की लड़ाई में राज्य बर्बाद हो रहा है.

 

वहीं, इंदौर के भाजपा MLA रमेश मेंदोला ने कांग्रेस पर तंज करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया को कहा कि ‘सिंधिया जी, कमलनाथजी का आपके प्रति व्यवहार पीड़ादायी है।हनुमान जी सबकी पीड़ा हरते है आप श्री पितरेश्वर हनुमान धाम के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आइए।इस विराट प्रतिमा के समक्ष सुंदरकांड/हनुमान चालीसा का पाठ आपकी पीड़ा हरके आपकी पार्टी में हो रहे अन्याय से लड़ने की शक्ति देगा।’

दरअसल, अतिथि शिक्षकों द्वारा नियमितीकरण की मांग को लेकर किए गए प्रदर्शन के बीच रविवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा था कि मैं जनता का सेवक हूं, जानते के मुद्दों के लिए लड़ना मेरा धर्म है. हमें सब्र रखना हैं. कांग्रेस के मैनिफेस्टो को हर स्थिती में पूरा किया जाएगा, और अगर आवश्यकता पड़ी तो इसके लिए सड़क पर भी उतरेंगे.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *