Lifestyle

ऐसे हटाएं पिंपल के दाग: बेदाग त्वचा के लिए सात घरेलू उपाय

पिंपल्स दर्दनाक और परेशानी देने वाले हो सकते हैं लेकिन हम उन्हें देखभाल के साथ ठीक कर सकते है। जीवनशैली में एक स्वस्थ आहार की कमी या हार्मोनल असंतुलन के कारण ज्यादातर ऐसा होता है। पिंपल के दाग जल्दी जाते नहीं और त्वचा की प्राकृतिक चमक छीन लेते हैं, जिससे चेहरा काले धब्बों से घिर जाता हैं। पिंपल्स को बार- बार छूने से वे खराब हो सकते हैं। इसके अलावा, कई अन्य उपाय हैं जिनका उपयोग आपके काले धब्बों को मिटाने के लिए किया जा सकता है। इन उपायों पर एक नज़र डालें जिनका उपयोग पिंपल के निशान हटाने के लिए किया जा सकता है:

1. ऑरेंज पील पाउडर: संतरे विटामिन सी का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। इसका सेवन करने से वास्तव में आश्चर्यजनक स्वास्थ्य और त्वचा लाभ होते हैं। साइट्रिक एसिड निशान को हल्का करने और त्वचा को उज्ज्वल करने में मदद करता है। सर्वोत्तम परिणामों के लिए प्रभावित क्षेत्रों पर संतरे के छिलके के पाउडर और शहद की समान मात्रा मिलाएं। इसे 15-20 मिनट तक रखें और गुनगुने पानी से धो लें। वैकल्पिक दिनों में इस विधि को दोहराएं।

2. नारियल का तेल: यह एक जादुई घटक है जो किसी भी प्रकार की त्वचा की स्थिति का इलाज कर सकता है। यह जीवाणुरोधी है। यह एंटीऑक्सिडेंट के साथ-साथ विटामिन ए और के का एक संयोजन है जो आपकी त्वचा को जलने और समृद्ध करने का भी इलाज कर सकता है। अपने प्रभावित क्षेत्रों पर तेल लगाए और बेहतर परिणाम के लिए इसे रात भर छोड़ दें। इसे बिना किसी चिंता के रोजाना इस्तेमाल किया जा सकता है।

3. एलो वेरा: यह असाधारण रूप से शरीर की सभी स्थितियों के इलाज के रूप में काम करता है। यह एक जीवाणुरोधी घटक है जो त्वचा के संक्रमण को रोकता है। यह हमारे पिंपल के निशान को दूर करने का एक प्रभावी तरीका है। इसे पौधे से निकाला जा सकता है और सीधे निशान पर लगाया जा सकता है। एक मोटी परत लगाए और इसे रात भर रहने दें। तेजी से परिणाम के लिए इसे दैनिक दोहराएं।

4. बेकिंग सोडा: यह एक प्रभावी त्वचा एक्सफोलिएटर है जो आपकी त्वचा को हाइड्रेट रखता है। इसमें ब्लीचिंग गुण भी होते हैं। बेकिंग सोडा का दैनिक उपयोग बंद रोमकूप और काले धब्बों से छुटकारा पाने में मदद कर सकता है। यह त्वचा के पीएच संतुलन को पुनः प्राप्त करने के लिए भी फायदेमंद है, जो दाने के निशान और निशान को रोकता है। पानी के साथ बेकिंग सोडा का पेस्ट बनाएं। इसे अपने निशानों पर लगाएं और सूखने दें। 10-15 मिनट बाद इसे धो लें।

5. नींबू का रस: यह विटामिन सी से समृद्ध है जो निशान को हटाने और हल्का करने में मदद करता है। एक छोटे कटोरे में नींबू का रस निचोड़ें फिर कपास या अपनी उंगलियों की मदद से इसे धब्बों पर लगाएं। इसे 10-15 मिनट के लिए छोड़ दें और गुनगुने पानी से धो ले। सुनिश्चित करें कि आपके हाथ साफ होने चाहिए और हमेशा एक ताजा नींबू का उपयोग करें।

6. अरंडी का तेल: यह विटामिन ई और ओमेगा -3 फैटी एसिड से भरपूर है। यह क्षतिग्रस्त त्वचा को पिघलाता है और नई कोशिकाओं के विकास को बढ़ाता है। यह पिगमेंटेशन को ठीक और त्वचा को समृद्ध करता है। प्रभावित क्षेत्रों पर तेल लगाए, इसे रात भर छोड़ दें और गुनगुने पानी से अच्छी तरह से धो लें।

7. हल्दी: यह एक कार्बनिक और सबसे पुराना औषधीय घटक है। यह पिगमेंटेशन को कम करता है और त्वचा के रंग को हल्का करता है। 1 चम्मच नींबू के रस में 1 चम्मच हल्दी मिलाएं। इस मिश्रण को दाग पर या अपने चेहरे पर मास्क के रूप में लगाएं और इसे अपना कमाल दिखाने दें। इसे 30 मिनट के लिए छोड़ दें और धो लें।

इनके अलावा आपको अपने चेहरे को दिन में दो बार धोना चाहिए और इसे नियमित रूप से एक्सफोलिएट करना चाहिए, जो बंद और मृत त्वचा कोशिकाओं से छुटकारा पाने में मदद करता है। साथ ही संतुलित आहार लें और पानी के साथ स्वस्थ तरल पदार्थों का सेवन करें जो वास्तव में आवश्यक हैं। दाग- धब्बों के निशान को रोकने के लिए स्वच्छता बनाए रखना सबसे सरल तरीका है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *