BeveragesLiquor

एनह्यूजर बुश ने बियर पर टैक्स कम करने की मांग की

प्रमुख शराब कंपनी एनह्यूजर-बुश इनबेव का कहना है कि कई राज्य सरकारों के कोविड-19 संकट के चलते शराब पर कर बढ़ाने से बियर की मांग घट गयी है। इसके चलते कंपनी को अपनी लघु और मध्यम अवधि की योजनाओं का पुन:आकलन करना पड़ रहा है। कंपनी ने बियर पर ऊंचे कर की दर को कम करने की मांग की है।

विश्व की सबसे बड़ी बियर कंपनी एनह्यूजर-बुश के दक्षिण एशिया कारोबार के अध्यक्ष कार्तिकेय शर्मा ने पीटीआई-भाषा से कहा कि लॉकडाउन और उसके बाद के घटनाक्रमों ने उसकी आय प्रभावित की है। इसके बाद कई राज्य सरकारों के अतिरिक्त कर लगाने से भी बियर की मांग 60 से 70 प्रतिशत घटी है जिससे उसकी वृद्धि पर असर पड़ा है।

कंपनी ने कहा कि इसके चलते वह अब अपने नए उत्पादों को पेश करने और पूंजीगत निवेश की योजना पर पुनर्विचार कर रही है। हालांकि, उसकी दीर्घावधि योजनाएं बरकरार हैं। कंपनी बडवाइजर, कोरोना और होएगार्डन ब्रांड नाम से बियर की बिक्री करती है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *